Loading...

Dream Writer

The story of Dream Writer revolves around the protagonist Shobha, who sees varied, colorful dreams with unusual characters…

Ruchi Dhona Parag Reads 12 June 2020

नया स्वेटर

यह एक छोटी बच्ची की कहानी है जो कबाड़ बीनती है| वह छोटी बच्ची है लेकिन परिवार में उसकी भूमिका वयस्कों के समान है| रोज सुबह वह बीनने निकलती है बीना हुआ माल बेचकर जितना भी पैसा मिलता है…

Neetu Yadav Parag Reads 29 May 2020

उड़ती चारपाई

“इटली की सच्ची परीकथा” … ‘उड़ती चारपाई’ किताब का यह उप- शीर्षक सहसा ही पाठक का ध्यान आकर्षित करता है। साथ ही मन एक संदेह से भर जाता है कि क्या परिकथाएं भी सच्ची हुआ करती हैं?…

Navnit Nirav Parag Reads 22 May 2020

RED

What first attracted me to the book was the nice red color cover page with the doodle of a sad boy on it. The first few pages of the book give…

Nitu Singh Parag Reads 15 May 2020

सत्यदास

मानवता की यह कहानी, एक ऐसे व्यक्ति के बारे में है जिसकी ज़िन्दगी की जरूरतें काफी कम थींवह कुछ बुनियादी जरूरतों के साथ एक सीधी सादी जिन्दगी जीता था। वह एक एक विनम्र, कृतज्ञ, क्षमाशील इंसान था।…

Nitu Singh Parag Reads 1 May 2020

पुस्तकालय को देखने का एक नया नजरिया

मेरे विद्यालय का पुस्तकालय एक छोटा सा कक्ष है जिसमे सारी पुस्तके दो आलमारियों में बंद करके रखी गयी थी।मैं एक पुस्तकालयाध्यक्ष हूँ। अगर पुस्तकालय ही छोटा हो तो अधिक नामांकन वाले विद्यालय में उसका संचालन…

शालिनी सेन Parag Reads 23 April 2020

सर, पुस्तकालय में कब लेकर चलेंगे

पराग इनीशिएटिव ऑफ़ टाटा ट्रस्ट द्वारा सी एल सी कोर्स संचालित किया जा रहा है जो कि निश्चय ही काबिले तारीफ है इस कोर्स से जुड़ने पर लगा की पुस्तकालय एक व्यक्ति द्वारा संचालित प्रोजेक्ट ना होकर…

खेमराज सिंह Parag Reads 23 April 2020

एलईसी के साथ मेरा सफर

लाइब्रेरी एड्युकेटर्स कोर्स करने के बारे में आज से चार साल पहले यानी 2016 में सोचा था। मन में हिचकिचाहट थी कि किताबों के सम्पादन का लम्बा अनुभव है तो फिर क्या यह कोर्स करना चाहिए।

दीपाली शुक्ला Parag Reads 23 April 2020

The Mystery of the Missing Soap

I wonder what Charles Dickens was thinking when he wrote, “It was the best of times, it was the worst of times … 

Proma Basu Roy Parag Reads 24 April 2020

गोदाम

यूँ तो किशोरों के लिए हिन्दी भाषा में विरले ही साहित्य रचा गया है। जो भी अब तक उपलब्ध रहा उन्हें कंटेन्ट और प्रस्तुतिकरण के आधार पर किशोरों के लिए उपयुक्त नहीं माना जा सकता।

Navnit Nirav Parag Reads 17 April 2020